Dehradun | 06 Aug, 2021 (2 months, 1 week ago)

Property Law

Uttarakhand

मेरे स्वँ पिताजी ने ताऊ के लडके को 1983 मे अपनी कुछ जमीन बगीचा पेड लगाने दी, तब से उस जमीन को वही देख रहा है । पिताजी के मृत्यु के 37 साल बाद उसने oct, 2020 मे चुपके से तहसील कोटद्वार कोर्ट से फैसला अपने फेबर मे ले लिया । कब केस फाईल किया, पता नहीं । हमें कोर्ट से समन भी नहीं आया और न ही हमें सुना गया । खाता खतोनी देखने पर यह सब पता चला । कानूनी सलाह दिजिए कि हम कहाँ और कया कार्यवाही कर सकते हैं।
Answers

No answer exists

uttarakhand-519697

Advice on call

Fixed fee on-call advice
from expert lawyers.

talk to a lawyer

Get free Quotes

Post a requirement & get quotes from verified lawyers.

Get Free Legal Advice

Need legal help?

Send us your requirements and get free proposals directly to your inbox.

Get free proposals